पुस्तक समीक्षा

अभिषेक जोशी द्वारा रचित Covid 19 अंत या एक नई शुरुआत रचना एक तेज़ रफ्तार थ्रिलर है। जिसकी शुरुआत चीन के वुहान शहर से होती है। वहाँ के एक बाजार में पहली दफा चमगादड़ बिकने के लिए आए है। गतिविधि संदिग्ध है, क्योंकि चमगादड़ लाने वाला आदमी वाइट हाउस में फोन लगाता है और कहता है कि काम पूरा हो गया है! ठीक इसके बाद अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी के एक कार्यालय में डेव नामक व्यक्ति अपनी नेता नैंसी पार्कर को ख़बर देता है कि वाइट हाउस के इशारे पर चीन में बायोवेपन का प्रयोग हुआ है। नैंसी अपने संपर्क पर जाँच करवाने लगती है। सी आई ए  और उसकी खुफिया एजेंसी जाँच करती है। अब उन्हें तलाश है एक भगोड़े की जिसका नाम है शॉन पैट्रिक। 
इसी समय अंतराल में  इटली के रोम शहर में एक पादरी प्रवचन दे रहा है। वह नॉर्बेर्ट नामक एक बूढ़े के मन में ईश्वर के प्रति आस्था जगा रहा है। जिसके लिए वह बाइबल और दूसरे धर्मों की कहानियों का इस्तेमाल कर रहा है।  वास्तव में ये कहानियाँ उस कारण की ओर इशारा करती है जिसके कारण वायरस को बनाया गया। 
इस उपन्यास का कथानक बहुत ही ताजगी भरा है। लेखन और भाषा शैली भी अत्यंत प्रभावशाली है। कई संवाद बहुत ही जबरदस्त है जैसे- ऐसी भी क्या खबर लाए हो! क्या आज फिर किसी ने राष्ट्रपति का मीम बनाया है? आज गंगा आरती के दौरान मैं  दो साधुओं से मिला। बड़े विचित्र थे। कह रहे थे कि युग परिवर्तन होने वाला है इसलिए प्रधानमंत्री जी को सचेत कर दो!
यह उपन्यास चीन, अमेरिका, इटली और भारत में विभिन्न घटनाओं को दर्शाता है। इसका अंत एक बहुत प्राचीन संगठन के मुखिया डॉ अश्वत्थामा के संवाद से होता है जो वाइट हाउस के भगोड़े को कहता है- हम फिर आएंगे। क्योंकि तीसरा विश्वयुद्ध एशिया की भूमि पर लड़ा जाएगा।यहां रॉ का एक एजेंट चीनी राष्ट्रपति की हत्या करने को निकलता है। आगे क्या होता है यह जाने के लिए पुस्तक पढ़ना जरुरी लगता है।  लेखक को शुभकामनायें 

-अमित राणा 


पुस्तक - कोविड 19 अंत या एक नई शुरुआत
लेखक - अभिषेक जोशी मूल्य - 175 रू.
प्रकाशक - फ्लाईड्रीम्स पब्लिकेशन
पुस्तक प्राप्त करने के लिए flydreams publications या इंदौर पुस्तकालय  पर संपर्क कर सकते है.
09660035345,  9009567135