बैतूल। जिला पुलिस के जाबांज जवान अशोक ठाकुर पुलिस ड्युटी को अंजाम देते देते कोरोना की चपेट में आए और बीती रात " शहीद " हो गए। उनकी पत्नी अभी भी अस्पताल में है।

मिली जानकारी के अनुसार 

अशोक ठाकुर  बोरदेही थाना में पदस्थ थे। उनकी  खम्बारा बेरियर महाराष्ट्र बॉर्डर में ड्यूटी लगाई गई थी। ड्यूटी के दौरान वह कोविड से संक्रमित होकर उपचार हेतु पहले राठी अस्पताल में तथा उसके बाद बडोरा चौक के वैष्णवी अस्पताल में भर्ती रहे। इसके बाद उनकी पत्नी श्रीमती कमला बाई भी कोविड से संक्रमित होने से  भारत भारती के आयुर्वेद अस्पताल में भर्ती हुईं। इस बीच अशोक ठाकुर को शासकीय अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा था। श्री अशोक ठाकुर ने आज रात्रि 01.30 बजे शासकीय अस्पताल में अंतिम सांस ली। वर्तमान में अशोक की पत्नी आयुर्वेद अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी प्राप्त हुई है।

 अशोक ठाकुर 25 वर्ष से पुलिस विभाग में सेवाएं दे रहे थे। उनके दो बच्चे लड़की 20 वर्ष की तथा लड़का 18 वर्ष का है। पुलिस विभाग में इस निधन से शोक है। कोरोना की दूसरी लहर ने कई पुलिस कर्मियों को छीन लिया। हालांकि काफी ठीक होकर भी लौटे।